ऑक्सीजन मास्क लगाकर 10वीं की परीक्षा दे रही है छात्रा, कहा-बीमार हूं कमजोर नहीं

0
17824

ये हौसला कैसे झुके ये मंजिलें कैसे रूके… अगर हौसला हो तो बड़ी से बड़ी मुश्किलों को आसान किया जा सकता है। ऐसी ही हौसले की उड़ान भरती नजर आई बलिया की छात्रा साफिया जावेद जो ऑक्सीजन सिलेंडर लगाकर 10वीं की परीक्षा दे रही है। छात्रा बरेली के राजकीय बालिका इंटर कॉलेज से हाईस्कूल की प्राइवेट परीक्षा दे रही है।

5 साल से बीमार है छात्रा
बता दें कि छात्रा साफिया को पिछले 5 सालों से बीमारी ने जकड़ रखा है, जिसके चलते उसके फेफड़ों की परेशानी के साथ-साथ टीबी की बीमारी भी हो गई है। फेफड़े कमजोर होने के चलते छात्रा ठीक से सांस नहीं ले पाती है। छात्रा का इलाज कर रहे डॉक्टरों ने छात्रा को 24 घंटे ऑक्सीजन के सहारे रहने की सलाह दी है। वह उसी के सहारे पिछले 1 साल से अपना जीवन जी रही है।

परिजनों ने दिया हौसला
साफिया जावेद ने इस बार हाईस्कूल का प्राइवेट फॉर्म भरा था और जब परीक्षा देने का समय आया तो उसकी हिम्मत जवाब दे रही थी कि कैसे ऑक्सीजन सिलेंडर के सहारे परीक्षा कक्ष में बैठकर 3 घंटे परीक्षा कैसे दे पाएगी? लेकिन परिजनों का हौसला बढ़ाने के बाद छात्रा में भी परीक्षा देने की हिम्मत आ गई। उसने अपनी बीमारी को कमजोरी न बनाते हुए ऑक्सीजन सिलेंडर के सहारे ही परीक्षा कक्ष में बैठकर परीक्षा देने की ठान ली। जिसके बाद छात्रा साफिया जावेद के घर वालों ने लिखित प्रार्थना पत्र देकर साफिया जावेद को परीक्षा कक्ष में ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ बैठने की अनुमति कॉलेज प्रशासन से ले ली। शिक्षा विभाग भी दे रहा पूरी सहायता

कॉलेज प्रशासन ने भी छात्रा के जज्बे को देखते हुए तुरंत ऑक्सीजन सिलेंडर के साथ परीक्षा कक्ष में परीक्षा देने की अनुमति दे दी। अब साफिया ऑक्सीजन सिलेंडर के सहारे बैठकर तीन घंटे परीक्षा देती हैं। साफिया कहती हैं कि वह बीमार जरूर हैं पर कमजोर नहीं और वह अपनी मंजिल पाकर रहेंगी।