ऊना के बाद प्रदेश के तीन और जिलों में पेट्रोल-गैस की खोज

1055
Petrol and gas discovery in three more districts

प्रदेश के चार जिलों में पेट्रोलियम पदार्थ और प्राकृतिक गैस की खोज की जा रही है। ऊना के बाद अब बिलासपुर, सोलन और हमीरपुर जिलों में सर्वे हो रहा है। इन दिनों बिलासपुर के स्वारघाट व इससे सटे जिला सोलन के रामशहर क्षेत्र में 76 किलोमीटर की सीधी लाइन में दिन-रात काम किया जा रहा है।

भू-वैज्ञानिक कई स्थानों पर 60 फीट तक गहरी बोरिंग करके केंद्र को डिजिटल आंकड़े भेज रहे हैं।
ONGC के माध्यम से अल्फा जीईओ इंडिया लिमिटेड हैदराबाद कंपनी के वैज्ञानिक दिसंबर तक सर्वे को पूरा कर लेंगे। ओएनजीसी से सेवानिवृत्त भू-वैज्ञानिक एवं प्रोजेक्ट के प्रभारी डॉ. डीआर कोठियाल ने बताया कि पहाड़ी क्षेत्र होने की वजह से काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

लेकिन हिमाचल सरकार व संबंधित जिलों के प्रशासन के अधिकारियों का उन्हें बहुत सहयोग मिल रहा है जिससे कार्य दिन-रात प्रगति से चल रहा है। स्वारघाट के बेस कैंप में 24 घंटे वैज्ञानिकों की ओर से डिजिटल आंकड़े जुटाए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि यदि हिमाचल में पेट्रोलियम पदार्थ एवं प्राकृतिक गैस का भंडार मिलता है तो भारत सरकार के साथ ही हिमाचल प्रांत को भी बड़ा फायदा होगा।