उजड़ा परिवार : सड़क हादसे में उजड़ा परिवार, पति-पत्नी और 1 बेटे की मौत, दूसरा लड़ रहा जिंदगी की जंग

4442
husband and wife died in a road accident

नेशनल हाईवे -148 B पर स्थित गांव नांगल सिरोही के पास शुक्रवार तड़के सड़क हादसे में पति, पत्नी तथा बेटे की मौत हो गई। हादसे में दंपती का दस वर्षीय दूसरा बेटा भी गंभीर रूप से घायल हो गया। पूरा परिवार राजस्थान में मेहंदीपुर बालाजी का दर्शन करने जा रहा था।

हादसे के बाद घायलों को नागरिक अस्पताल नारनौल पहुंचाया गया। जहां पर चिकित्सकों ने तीन लोगों को मृत घोषित कर दिया। इसके अलावा दस वर्षीय मानव को गंभीर हालत में गुरुग्राम रेफर कर दिया।

मिली जानकारी के अनुसार चरखी दादरी निवासी केशव गौतम (35), पत्नी सुषमा (30), बेटे मानव (10) व लक्ष्य (4) के साथ अपनी होंडा टीआरवी गाड़ी से शुक्रवार को मेहंदीपुर बालाजी जा रहे थे। शुक्रवार तड़के करीब चार बजे महेंद्रगढ़ के गांव नांगल- सिरोही के पास सामने से आई पिकअप के चालक ने उनकी कार को साइड मारी दी। इसमें उनकी गाड़ी अनियंत्रित होकर पेड़ से जा टकराई।

हादसे में दंपती सहित दोनों बेटे घायल हो गए। मौके पर पहुंचे लोगों ने घायलों को नागरिक अस्पताल नारनौल पहुंचाया। जहां पर चिकित्सकों ने केशव गौतम, सुषमा और लक्ष्य को मृत घोषित कर दिया। डॉक्टरों ने मानव की गंभीर हालत को देखते हुए उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया।

इसके बाद परिजन उसे गुरुग्राम मेडिसिटी ले गए। पुलिस ने मृतक केशव के पड़ोसी प्रवीण सैनी के बयान पर अज्ञात पिकअप चालक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई आरंभ की है। जानकारी के अनुसार केशव गौतम चरखी दादरी मेें बिल्डिंग मैटेरियल सप्लाई करने का कार्य करता था और उसकी पत्नी सुषमा गृहणी थी। छोटा बेटा लक्ष्य प्ले स्कूल में पढ़ता था और बड़ा बेटा मानव पांचवीं कक्षा का छात्र है।

जिला उद्यान अधिकारी ने दिखाई मानवता
मैं शुक्रवार तड़के एआईपीआरओ धर्मेंद्र कादियान, रोहताश तथा एक क्लर्क के साथ पंचकूला एक मीटिंग में जा रहा था। रास्ते में नांगल सिरोही के पास सड़क हादसा देखा। हमने तुरंत अपनी गाड़ी को रोका और घायलों को अपनी गाड़ी में डालकर नारनौल नागरिक अस्पताल पहुंचाया। -मनदीप यादव, जिला उद्यान अधिकारी, नारनौल।

एयर बैग खुलते तो बच सकती थी जान
हादसा स्थल पर क्षतिग्रस्त गाड़ी में एयर बैग आधे ही खुले मिले। अगर एयर बैग खुल जाते तो शायद परिवार के लोगों की जान बच जाती। गाड़ी स्वयं केशव गौतम चला रहा था। आगे की सीट पर छोटा बेटा लक्ष्य तथा उनकी पत्नी सुषमा बैठी थी। मानव पीछे की सीट पर सो रहा था।

सुुबह करीब साढ़े चार बजे हादसे की सूचना के बाद मौके पर पहुंचे थे। प्राथमिक जानकारी के अनुसार अज्ञात पिकअप चालक की टक्कर से केशव की गाड़ी का संतुलन बिगड़ गया। इसके कारण ही यह हादसा हुआ। पुलिस ने अज्ञात पिकअप चालक के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।