शिक्षा मंत्री बोले, नहीं रुकेंगी स्नातक की परीक्षाएं; फैसले को चुनौती देगी सरकार

1134
Himachal Education Minister said graduate examinations will not stop

स्नातक के छठे सेमेस्टर की परीक्षाओं को लेकर सस्पेंस खत्म हो गया है। राज्य सरकार प्रदेश में परीक्षाओं पर रोक नहीं लगाएगी। इन परीक्षाओं को जारी रखा जाएगा। राज्य सरकार सुप्रीम कोर्ट में स्पेशल लीव पैटिशन (एसएलपी) दायर करेगी। इसको लेकर कानूनी राय ली जा रही है। कोर्ट के आदेश आने के बाद शिक्षा मंत्री ने इसको लेकर अधिकारियों के साथ बैठक की। शिक्षा मंत्री ठाकुर ने महाधिवक्ता को एलएलपी दायर करने को कहा गया है, ताकि परीक्षाओं को लेकर कोई असमंजस न रहे। स्नातक अंतिम समेस्टर की परीक्षाएं सोमवार से शुरू हुई थी।

परीक्षा शुरू होने के बाद 14 अगस्त को प्रदेश उच्च न्यायलय के आदेशों की प्रति सरकार और शिक्षा विभाग को मिली। उच्च न्यायलय ने परीक्षाओं पर रोक लगाने का आदेश दिया था। इसमें कहा गया था कि सुप्रीम कोर्ट में भी इस तरह का मामला चला हुआ है। जब तक उसका निर्णय नहीं आ जाता तब तक परीक्षाओं को आयोजित न किया जाए। आदेश बीते 14 अगस्त को जारी हो गए थे, 15 व 16 अगस्त को अवकाश होने के चलते विभाग को आदेशों की कॉपी अब जाकर मिली है। 19 अगस्त को इस मामले की कोर्ट में सुनवाई होनी है।

नहीं रुकेगी पीटीए शिक्षकों को रेगुलर करने की प्रक्रिया

राज्य के सरकारी स्कूलों में कार्यरत पीटीए शिक्षकों को नियमित करने की प्रक्रिया नहीं रूकेगी। प्रदेश उच्च न्यायलय में पीटीए शिक्षकों से जुड़े मामले की उच्च न्यायलय में सुनवाई चल रही है। शिक्षा मंत्री ने कहा कि न्यायलय ने नियमितिकरण पर रोक लगाने के संबंध में कोई आदेश नहीं दिए हैं। उन्होंने कहा कि विभागीय स्तर पर नियमितिकरण की प्रक्रिया जारी हैं। शिक्षकों का पूरा रिकार्ड आने के बाद नियमितिकरण के आदेश जारी कर दिए जाएंगे।